Bihar Police Constable Ki Taiyari Kaise Karen 2021 – बिहार पुलिस कांस्टेबल की तैयारी कैसे करें?

Bihar Police Constable ki Taiyari Kaise Karen 2021 | Bihar Police Constable Recruitment 2021| @csbc.bih.nic.in पुलिस भर्ती परीक्षा में बड़े बदलाव, 100 अंकों की होगी लिखित परीक्षा

नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से हम आपको Bihar Police Constable Ki Taiyari Kaise Kare 2021 | बिहार पुलिस कांस्टेबल की तैयारी कैसे करें? इसके क्या सिलेबस है। आपको आज इस पोस्ट के माध्यम से बताने वाले है। तो आप इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें। आपको हम बिहार पुलिस कांस्टेबल की तैयारी के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है।

Bihar Police Constable Ki Taiyari Kaise Karen 2021

बिहार पुलिस में सिपाही के 8415 पदों पर बहाली के लिए मार्च में लिखित परीक्षा हो सकती है। केन्द्रीय चयन पर्षद (सिपाही भर्ती) के मुताबिक इसके लिए 21 मार्च 2021 की तारीख प्रस्तावित है। यदि सेंटर उपलब्ध हुए तो इसी तारीख को परीक्षा आयोजित की जाएगी। पुलिस में सिपाही के 8415 पदों पर बहाली के लिए इसी महीने चयन पर्षद द्वारा विज्ञापन जारी किया गया है। आवेदन करने की अंतिम तिथि 14 दिसम्बर है।

Bihar Police Constable Ki Taiyari Kaise Kare

इंटरमीडिएट (10+2) स्तर की होगी परीक्षा

सीएसबीसी की इस भर्ती में योग्य उम्मीदवारों का चयन लिखित परीक्षा और शारीरिक मानक व दक्षता परीक्षण में योग्य पाए जाने पर किया जाएगा। लिखित परीक्षा इंटरमीडिएट (10+2) स्तर की होगी जिसमें बिहार बोर्ड की 12वीं कक्षा के स्तर की विस्तृत पाठ्य सामग्री से प्रश्न पूछे जाएंगे।

सीएसबीसी बिहार पुलिस कांस्टेबल सिलेबस

चयन पर्षद की वेबसाइट csbc.bih.nic.in पर जारी किए गए नोटिफिकेशन के अनुसार, Bihar Police सिपाही भर्ती परीक्षा के पाठ्यक्रम में हिन्दी, अंग्रेजी, गणित, इतिहास, भूगोल, रानीति शास्त्र, अर्थशास्त्र, भौतिकी, रसायन विज्ञान एवं जीव विज्ञान विषयों में लिखित परीक्षा का स्तर बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के इंटरमीडिएट के समकक्ष होगा। इसके लिए बिहार विद्यालय परीक्षा समिति से विस्तृत पाठ्यक्रम प्राप्त किया जा सकता है।

बिहार पुलिस कांस्टेबल एग्जाम की तैयारी कैसे करें?

Bihar Police के पाठ्यक्रम में सामाजिक विज्ञान, इतिहास, भूगोल, हिंदी, अंग्रेजी, गणित, नागरिक शास्त्र व अर्थ शास्त्र विषय को शामिल किया गया हैं। परीक्षा में भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, प्राणी विज्ञान और वनस्पति विज्ञान के प्रश्न पूछें जाते है। साथ ही परीक्षा में समसामयिक प्रश्न भी पूछें जाएंगे। परीक्षा में आने वाले प्रश्नों का स्तर मैट्रिक स्तर के बरामर होगा। वहीं डीसीपी के पदों पर होने वाली साधी भर्ती में 50 फीसदी नियुक्ति सीधी प्रक्रिया के तहत किया जाएगा, जबकि 50 फीसदी पद पदोन्नति से भरें जाएंगे।

Bihar Police Exam Details 2021

  • लिखित परीक्षा 100 अंको की होगा।
  • समय 2 घण्टे रहेगा।
  • कुल प्रश्नो का संख्या 100 ।
  • प्रत्येक सही उत्तर के लिए 1 अंक निर्धारित होगा।
  • चाहे जिस Category का Candidates हो अगर वह 30% से कम अंक लाएगा तो वह असफल रहेगा, उसे Physical test मे भाग नही देने दिया जाएगा।
  • लिखित परीक्षा मे प्राप्त अंको के आधार पर विज्ञापित Post के 1:5 अनुपात मे प्रत्येक आरक्षण कोटि के लिए Candidates का Selection Physical Test हेतु किया जाएगा।

Height (लम्बाई)

  • Male : General/BC 165 सेमी होनी चाहिए, EBC की 162cm होनी चाहिए तथा SC/ST की 160cm होना आवश्यक है।
  • Female : सभी Category के लिए 155 सेमी होना आवश्यक है।

Chest (सीना)

  • Male : Gen / BC / EBC की 81.86cm तथा SC / ST के लिए 79.84 सेमी होना चाहिए।
  • Female : Not Available

Bihar Police Race Details

Male : Bihar Police दौड को ज्यादा मायने देना है आपको जिसमे की कुल दुरी 1600 मीटर, 6 मिनट मे पूरा करना है तथा यह 50 Mark का होता है।

  • इस दौड को जो अभ्यार्थी 5 मिनट मे पूरा करेगा उसे 50 अंक मिलेगा।
  • 5 मिनट से अधिक एवं 5 मिनट 20 सेकेण्ड तक – 40 अंक ।
  • 5 मिनट 20 सेकेण्ड से अधिक एवं 5 मिनट 40 सेकेण्ड तक – 30 अंक ।
  • 5 मिनट 40 सेकेण्ड से अधिक एवं 6 मिनट तक – 20 अंक ।
  • Note: 6 मिनट से अधिक समय लेने वाले अभ्यार्थी को असफल घोषित किया जाएगा।

Female : Bihar Police दौड को ज्यादा मायने देना है आपको जिसमे की कुल दुरी 1000 मीटर, 6 मिनट मे पूरा करना है तथा यह 50 नम्बर का होता है।

  • 5 मिनट तक – 50 अंक
  • 5 मिनट से अधिक एवं 5 मिनट 20 सेकेण्ड तक – 40 अंक
  • 5 मिनट 20 सेकेण्ड से अधिक एवं 5 मिनट 40 सेकेण्ड तक – 30 अंक
  • 5 मिनट 40 सेकेण्ड से अधिक एवं 6 मिनट तक – 20 अंक
  • Note: 6 मिनट से अधिक समय लेने वाले अभ्यार्थी को असफल घोषित किया जाएगा।

Bihar Police की दौड़ करते वक्त ध्यान रखें ये बातें

  1. अगर आप पहली बार दौड़ करने जा रहे हैं जो शारीरिक फिटनेस के अभाव में पैरों की मसल्स में अकड़न होगी। ऐसे में सीधे दौड़ लगाने से पहले शरीर की स्ट्रेचिंग करन जरूरी है।

2. दौड़ने से कुछ दिन पहले ही प्रोटीन और कार्बोहाईड्रेटयुक्त पर्याप्त आहार लेना शुरू कर दें। इससे दौड़ते वक्त शरीर को ऊर्जा मिलेगी।

3. नए रनर हैं जो अपने जूते पर ध्यान दें। रेस के वक्त यदि जूता चुभता है या कम्फर्टेबल नहीं है तो कोई अच्छा और आराम दायक जूता लें।

4. दौड़ते वक्त बहुत चुस्त या बहुत ढीले कपड़े न पहने। इससे आप जल्दी थक सकते हैं।

5. रेस करने में शुरू में ही बहुत तेज न दौड़ें, नहीं तो आप जल्दी हांफ जाएंगे और रेस पूरी करना मुश्किल हो सकता है।

गोला फेक

  • Male : गोले का वजन 16 Pond यानी 7.2 किलो जिसे अधिकतम 16 फीट तक फेकना है।
  • Female : गोले का वजन 12 Pond यानी 5.4 किलो जिसे अधिकतम 10 फीट तक फेकना है।

लॉन्ग जम्प

  • Male : 4 फ़ीट
  • Female : 3 फ़ीट

मेडिकल जाँच परीक्षा

शारीरिक परीक्षा में सफल उम्मीदवारों को मेडिकल टेस्ट के लिए बुलाया जाएगा। मेडिकल में उम्मीदवारों की नजर, वर्णांधता, स्टेमिना, सपाट तलवे और सटते घुटनों की जांच की जाएगी।

Bihar Police Constable ki Taiyari Kaise Karen 2021

जब भी कोई एग्जाम शुरू होने वाला होता है चाहे वह बिहार पुलिस , बीपीएससी ,एसएससी रेलवे ,बैंक हो तो बहुत से छात्रों को अक्सर एक बड़ी समस्या का सामना करना पड़ता है। और वह समस्या यह है कि उन्हें कम समय में बहुत ज्यादा सिलेबस तैयार करना पड़ता है। यह समस्या उन छात्रों को लिए बहुत बड़ी होती है जिन्होंने ने पूरा साल कुछ भी नहीं पढ़ा होता।

Bihar Police ki Taiyari Kaise Karen

अक्सर छात्र इंटरनेट में कुछ इस तरह के सवालों के उत्तर ढूढ़ते रहते है जैसे एग्जाम की तैयारी एक महीनें में कैसे करें या एक हफ्ते में कैसे करें या फिर एक दिन में कैसे करें। आज हम यहाँ आपको कुछ टिप्स देंगे जिनसे आप बहुत कम समय में ज़्यादा से ज़्यादा पढ़ाई कर सकतें है और एग्जाम में बहुत अच्छा स्कोर हासिल कर सकते हैं।

बिहार पुलिस कांस्टेबल की तैयारी कैसे करें?

यह ख़ास टिप्स आपकी हर परिस्थिति में मददगार होंगी फिर चाहे एग्जाम की तैयारी में एक महीना बचा हो, एक हफ्ता बचा हो या फिर एक दिन। यह एग्जाम छमाही परीक्षा (Half Yearly) हो सकती है, बोर्ड परीक्षा हो सकती है या फिर कोई अन्य प्रतियोगी परीक्षा।

बिहार पुलिस की तैयारी कैसे करें?

1. सबसे पहले सिलेबस और पुराने पेपर देखें।

किसी भी एग्जाम की तैयारी शुरू करने से पहले पूरा सिलेबस और पुराने पेपर्स देख कर थोड़ा रिसर्च जरूर करें। पहले जानें की सिलेबस में कितने चैप्टर और टॉपिक दिए गए है। फिर पुराने पेपर्स देख कर यह जानने की कोशिश करें की

• किस चैप्टर से सवाल पूछे गए।

• किस चैप्टर से सबसे ज़्यादा सवाल पूछे गए।

• किस चैप्टर से सबसे कम सवाल पूछे गए।

• किस चैप्टर से आसान सवाल आये और किस चैप्टर से कठिन।

इस पूरी एनालिसिस के बाद आपको समझ आ जाएगा कि कौन सा चैप्टर (और कौन सा टॉपिक) एग्जाम के लिए सबसे ज़्यादा महत्वपूर्ण है। आपको यह भी समझ आ जाएगा कि कौन सा चैप्टर आप आसानी से तैयार कर सकते हैं और किस चैप्टर में सबसे ज़्यादा मुश्किल।

अगर आप के पास एग्जाम की तैयारी के लिए एक महीने का समय बचा है तो आप इस एनालिसिस में आधे से एक दिन का समय दे सकते है l अगर आपके पास एक दिन का समय है तो यह एनालिसिस आपको 10 से 15 मिनट में कर लेनी चाहिए।

2. चैप्टर्स को तैयार करने के लिए अपना रूटीन सेट करें।

सिलेबस और पुराने पेपर्स की एनालिसिस के बाद चैप्टर्स को तैयार करने के लिए एक प्राथमिकता सेट करें और एक टाइम टेबल भी बनाए। हो सकता है कोई चैप्टर तैयार करते वक़्त 10-15 मिनट कम या ज्यादा समय लग सकता हैं, इसलिए टाइम टेबल बनाते वक़्त हर चैप्टर या टॉपिक के लिए कुछ समय का मार्जिन ले।

एक बार टाइम टेबल बनाने के बाद उसमें किसी भी तरह के बदलाव से बचे। अगर आप बार-बार टाइम टेबल बदलेंगे तो आप टाइम टेबल ही बदलते रह जाएंगे और आपकी तैयारी नहीं हो पाएगी या हो भी पाएगी तो बहुत कम। इसलिए जो भी टाइम टेबल बनाए एक बार में बनाए और उसका सख्ती से पालन करें। एक चैप्टर को तय समय के अंदर या उससे पहले तैयार करने की कोशिश करें।

3. आसान चैप्टर्स को पहले देखें।

तैयारी करते समय आसान चैप्टर्स को सबसे पहले समय तैयार करें इससे आपका कॉन्फिडेंस लेवल बढ़ेगा। कुछ लोग पहले कठिन चैप्टर्स को पहले पढ़ने लगते है उनका तर्क होता है कि आसान चैप्टर्स में ज़्यादा कुछ करना नहीं होगा और उनको बाद में आसानी पढ़ा जा सकता है। बहुत बार ऐसा होता है कि लोग कठिन चैप्टर्स में ही फंसे रह जाते हैं और उन चैप्टर्स में बहुत ज़्यादा समय ले लेते हैं।

इस चक्कर में आसान चैप्टर्स भी नहीं तैयार हो पाते इसलिए कठिन चैप्टर्स को बाद में पढ़ना चाहिए। मान लीजिये की आपको तीन चैप्टर तैयार करने है और तीनों ही आपके लिए आसान हैं तो सबसे पहले वो चैप्टर तैयार करें जिससे एग्जाम में सबसे ज़्यादा नंबर के प्रश्न पूछे जाते हों।

4. नोट्स बनाकर पढ़े।

जब भी आप पढ़ाई करें तो पॉइंट्स बनाकर पढ़े। पॉइंट्स बनाकर पढ़ाई करने से आपको रिवीज़न करने में बहुत आसानी रहती है खासकर उस समय जब एग्जाम शुरू होने से पहले कुछ घंटो का समय बचा हो। सब्जेक्टिव प्रश्नो के उत्तर देते समय अगर आपको मत्वपूर्ण पॉइंट्स याद होंगे तो आप आसानी से बड़ा उत्तर दे सकते हैं। इसलिए प्रश्नो के उत्तरों को हमेशा पॉइंट्स बनाकर पढ़ना अथवा याद करना चाहिए।

5. बेकार चीजे अपने पास न रखें जो आपका समय बर्बाद करें।

जब समय काम हो और सिलेबस ज़्यादा तो आपके लिए एक-एक मिनट क़ीमती होता है इसलिए जब पढ़ाई करें तो आपके पास सिर्फ ज़रूरत की चीजें हो जैसे उस सब्जेक्ट से जुड़ीं किताबे, डिक्शनरी, पानी की बोतल इत्यादि। उस चीज़ को साथ न रखे जिससे आप पढ़ाई में ध्यान केंद्रित न कर पाए। यदि आपकी पढ़ाई के लिए लैपटॉप जरूरी न हो तो का उसका उपयोग न करें। अगर इंटरनेट की बहुत ज़्यादा जरूरत हो तो स्मार्टफोन साथ रखें पर उसके इस्तेमाल से जहां तक हो सके बचें।

6. पढ़ाई के बीच ज़्यादा ब्रेक न लेंने से बचें और हों सके तो ग्रुप स्टडी भी करें।

अक्सर आपने लोगों से सुना होगा की पढ़ाई के बीच ज़रूर लेना चाहिए यह बात तभी तक सही है जब आपके पास समय बहुत ज़्यादा हो और सिलेबस बहुत कम। जब आपके पास बहुत कम समय हो तो आपको पढ़ाई के बीच ब्रेक लेने से बचना चाहिए। अगर आप पढ़ाई के बीच में बार-बार ब्रेक लेंगे तो आपकी एकाग्रता भंग होगी।

एक चैप्टर पढ़ते बोर हो गए हैं और आपको ब्रेक लेने का मन कर रहा है तो थोड़ी देर के लिए दूसरा सब्जेक्ट या फिर कोई दूसरा टॉपिक पढ़ सकते हैं।

आप चाहें तो कंबाइंड या ग्रुप स्टडी भी कर सकते है। यहाँ पर ध्यान देने वाली बात यह है कि कंबाइंड या ग्रुप स्टडी शुरू होने से पहले आपके पास पूरा प्लान होना चाहिए की आप तय समय में कितने टॉपिक्स पढ़ेंगे। प्लान बनाकर कंबाइंड या ग्रुप स्टडी करने का सबसे ज़्यादा फायदा होता है।

7. भरपूर नींद और उचित आहार लेना न भूले।

जब आप कम समय में ज़्यादा पढ़ाई करते है तो अपने मस्तिष्क पर ज़्यादा दबाव पड़ता है। इसलिए इस समय आपको भरपूर नींद लेनी चाहिए जिससे आपकी एकाग्रता क्षमता पर कोई प्रभाव न पड़े। इस समय आपको बैलेंस डाइट लेनी चाहिए और आपको मैदे से बने खाने से बचना चाहिए क्यूँकि मैदे से बनीं चीज़ें (या फ़ास्ट फ़ूड) खाने से आलस्य बढ़ता है और आपके मस्तिष्क की कार्य क्षमता घटती है।

Bihar Police Exam Tips:

Bihar Police के एग्जाम की पढ़ाई का कुछ ऐसा टिप्स हैं जिनके द्वारा आप कम समय में ज़्यादा से ज़्यादा पढ़ाई कर सकते हैं और अच्छा स्कोर प्राप्त कर सकते हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात जो यहाँ ध्यान रखने वाली है वह यह है की आप एक बार पढ़ाई का टाइम टेबल बनाने के बाद उसमे बार-बार बदलाव न करे। अक्सर यह देखा जाता है कि छात्र एक बार टाइम टेबल सेट करते है पर उसे ठीक से अमल में नहीं ला पाते है।

बिहार पुलिस कांस्टेबल की तैयारी

समय कम होने पर फिर से नया रणनीति बनाने में लग जाते है। इस तरह वे सिर्फ रोज रणनीति पर रणनीति तैयार करने में अपना बहुमूल्य समय गवा देते है। और वह क्षमता अनुसार अपनी तैयारी नहीं कर पाते। कठिन परिश्रम के द्वारा इन दिक्कतों से आसानी से बचा जा सकता है और अपने लक्ष्य को आसानी से पाया जा सकता हैं। ऊपर बताये गए पॉइंट्स को फॉलो कर आप निश्चित सफलता पा सकते है।याद रखे कोई भी काम बिना बाधा के पूरा नही होगा, सफलता उन्ही लोगो के पैर चूमती है जो अंततक प्रयास करते है।

    || आंखों, में नींद बहुत है पर सोना नहीं है, यही समय है कुछ करने का इसे खोना नहीं है। ||

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *